वेबसाइट पर गूगल ऐडसेंस अप्रूवल कैसे लें | how to get adsense approval on website

वेबसाइट पर गूगल ऐडसेंस अप्रूवल कैसे लें | how to get adsense approval on website


अगर आपने कोई अपना खुद का वेबसाइट बनाया है और उस पर कोई गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल नहीं मिल रहा है तो आप टेंशन मत लीजिए मैं आपको सारा प्रोसेस बताऊंगा और उसके बावजूद भी अगर आपको गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल नहीं मिल रहा है आपके साइड पर आप मुझे कांटेक्ट के पेज के माध्यम से मुझे कांटेक्ट कीजिए मैं उन सभी का गूगल ऐडसेंस अप्रूवल करवाता हूं तो ऐसे में अगर आपको भी अपनी वेबसाइट के लिए गूगल ऐडसेंस को अप्रूव करवाना है तो आप मुझे कांटेक्ट कीजिए जो भी चार्ज लगेगा वह मैं आपको व्हाट्सएप पर बता दूंगा लेकिन आप पहले मेरे को जो वेबसाइट कांटेक्ट वहां से मुझे कांटेक्ट कीजिए |

how to get google adsense approval for website,how to get google adsense approval fast,adsense approval,adsense approval trick,how to get adsense approval fast,google adsense,google adsense approval,how to get adsense approval for wordpress website,how to get google adsense approval without a website,how to get adsense approval for blogger 2019,how to get google adsense approval
How to get adsense approval on website


आजकल सबसे ज्यादा जो भी लोग अपनी वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस के लिए अप्लाई करते हैं तो उसे सबसे ज्यादा जो दिक्कत आती है वह है नो कंटेंट या फिर वैल्युएबल इन्वेंटरी अंडर कंस्ट्रक्शन 2 प्रॉब्लम सबसे ज्यादा सभी को आजकल देखने को मिल रहा है तो ऐसे में अगर आपको भी एक तरह का प्रॉब्लम बार-बार खर्च करना पड़ रहा है तो आप तो बिल्कुल भी मतलबी कर रही है मैं आपको थोड़ा बहुत प्रोसेस टिप्स और ट्रिक्स बताने वाला हूं लेकिन उससे भी नहीं हो पा रहा है तो आप मेरे को कांटेक्ट कर लीजिएगा मैं आपको हंड्रेड परसेंट गारंटी देता हूं मैं आपको गूगल एडसेंस का अप्रूवल दिलवाकर रहूंगा|

वैल्युएबल इन्वेंटरी नो कंटेंट ( valuable inventory no content )


दोस्तो सबसे पहले तो मैं आपको बता दूं कि वैल्युएबल इन्वेंटरी 9 कंटेंट केयर क्यों आता है और इसका सलूशन क्या है तो इस पोस्ट को आप पूरा पढ़िए गा किसी भी टॉपिक को मिस मत करना वरना आप एक भी गलती करोगे तो फिर आपको ऐडसेंस अप्रूवल मिलने में बहुत ही प्रॉब्लम आ सकता है तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ना प्लीज तो मैं आपको अभी बता दूं कि ग्लोबल इन्वेंटरी नो कंटेंट क्यों आता है तो दोस्त मैं आपको बता दूं कि जब भी बहुत सारे लोग करते हैं की 15 पोस्ट डालते हैं और फिर  गूगल ऐडसेंस के लिए अप्लाई कर देते हैं तो वह क्या करते हैं 15 पोस्ट डाला है लेकिन वह बहुत ही कम वर्ड कर डाला है मतलब 508 के नीचे बहुत ही कम 500 वर्ड से नीचे डाला है तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना है ऐसा करने से नो कंटेनर का इशू आ रहा है तो ऐसा भी नहीं करना है तो क्या करना है कि जो भी पोस्ट लिखते हो सभी पोस्ट में आपको सजेस्ट करूंगा कि मिनिमम 1000 वर्ड के ऊपर आप सभी पोस्ट को लेकर एक पोस्ट 1000 वर्ड के ऊपर ले कर और उससे ही अकाउंट किया जाएगा पूरा लिखोगे तो आएगा ही आएगा ऐसा नहीं करना है आपको 1000 के ऊपर पोस्टर लिखना है लेकिन आपको लगेगा क्या आप तो बहुत ही कम पोस्ट कम वर्ड में पोस्ट लिख रहा है तो मैं आपको बता दूं कि अप्रैल के बाद तो आप कुछ भी करो अच्छा लगा लेकिन उससे पहले तो आपको 1000 वर्कर पोस्ट लिख नहीं पड़ेगी उसके बाद ही मिलेगा और वह भी 15 नहीं आप को मिनिमम मेरे हिसाब से 30 पोस्ट तो लिखना ही पड़ेगा 1000 वर्ड के ऊपर जब जाकर आपको गूगल ऐडसेंस का जो नो घंटे का है वह सोल हो पाएगा और मतलब इतना ही नहीं करना है और भी बहुत सारे प्रॉब्लम है जिसकी वजह से गूगल ऐडसेंस अप्रूवल में नो कंटेनर का एचयूएफएस करना पड़ता है

----------यह भी पढे----------


रेस्पॉन्सिव टेंप्लेट यूज़ करिए अगर आप रेस्पॉन्सिव टेंप्लेट यूज़ नहीं करोगे तो नो कंटेंट का प्रॉब्लम आएगा तो आपको हमेशा रेस्पॉन्सिव टेंप्लेट ही यूज करना है और उसके बाद आपको क्या करना है मैं आप का मतलब जो भी टेंप्लेटेड करते हैं तो उसमें आपने देखा होगा कि आप लेआउट पर जाते होंगे तो एक्स्ट्रा गेट होते हैं ऐड करें तो उसे हटाना है एक्स्ट्रा गैजेट में बोल रहा हूं मेरी बात का ध्यान दीजिए आप को हटाना होगा अगर आप उसे ऐसे ही रहने देंगे तो नो कंटेंट आएगा| द जितने भी ब्लेंक गैजेट ऐड किए हुए हैं उसे आप रिमूव कर दीजिए|

मिक्स लैंग्वेज यूज नहीं करना है ( mix language )


काफी सारे मैंने ऐसे भी लोग देखे हैं जो क्या करते हैं कि अपनी वेबसाइट पर जो पोस्ट डालते हैं तो उनमें क्या कहते हैं उर्दू लैंग्वेज में पोस्ट लिखते हैं कभी-कभी इंग्लिश में पोस्ट लिखते हैं तो कभी हिंदी में लिखते हैं तो ऐसा नहीं करना है ऐसा करने से भी नो कंटेंट का इशू आता है तो जो लैंग्वेज होता है वह पूरा मिक्स हो जाता है तो उसे जो गूगलबोट होता है वह ट्रांसलेट करके वह उसे समझता है कि यह क्या लिखा हुआ है लेकिन दो लैंग्वेज में होगा तो कंफ्यूज हो जाता है और आपको नो कंटेंट जो है वह रिप्लाई कर देता है|  तो इस तरह आपको कोई भी मतलब ऐसी पोस्ट नहीं लिखनी है कि जो mix-content हो जाए आपको कोई एक लैंग्वेज पकड़ कर ही काम करना होगा तो इस तरह आप कोई भी मतलब पोस्ट में दो लैंग्वेज का इस्तेमाल नहीं करना बिल्कुल भी अगर ऐसा करेंगे तो आपको कभी भी गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल नहीं मिल पाएगा इसकी मैं आपको गारंटी देता हूं तो इस तरह आपको मिक्स कंटेंट कोई भी लिखना है और क्वालिटी कंटेंट लिखकर सिर्फ और सिर्फ क्वालिटी उसे क्या कहा जाता है जो एक ही लैंग्वेज में लिखा जाए और मतलब ऐसऐसईओ फ्रेंडली हो|

वैल्युएबल इन्वेंटरी अंडर कंस्ट्रक्शन का सोल्यूशन क्या है ( valuable inventory under construction )


गूगल ऐडसेंस के लिए जब रिप्लाई करते हैं तो सबसे बड़ा जो दूसरा रीजन है वह है वैल्युएबल इन्वेंट बन सकता था और उपलब्ध करना पड़ता है तो इस तरह का जो प्रॉब्लम आ रहा है मैं अपनी वेबसाइट को जब भी आता है तो उसका रीजन क्या है मैं आपको अब बताऊंगा कि वैल्युएबल इंडिया कंस्ट्रक्शन का जो प्रॉब्लम है वह क्यों फेस करना पड़ता है और उसका जो सॉल्यूशन है वह बेस्ट टिप्स और ट्रिक्स क्या है वह भी मैं आपको इस आर्टिकल में बताया होता आप आगे इस आर्टिकल को पढ़ते रहेंगे|

वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस के लिए अप्लाई करने के बाद आपको कभी भी अपनी वेबसाइट में कुछ भी मतलब छेड़छाड़ नहीं करना है मतलब कोई भी चेंज नहीं करना है अगर आप कोई भी चेंज करती हो तो हम आपको गूगल ऐडसेंस की ओर से रिप्लाई मिलेगा वेरी इजी एंड सिंपल मतलब यह है कि  आप अभी भी आपकी वेबसाइट पर काम कर रहे हैं मतलब आप जब भी गूगल ऐडसेंस के लिए अप्लाई कर दिया है फिर भी आप अपनी वेबसाइट पर कोई भी छेड़छाड़ मतलब काम कर रहे हैं तो ऐसे में गूगल ऐडसेंस आपको यही रिप्लाई देगा की वैल्यू एलाइनमेंट एंड कंस्ट्रक्शन तो समझेगा कि आप अभी भी कोई काम करना बाकी रह गया है जो कर रहे हो आपको गूगल ऐडसेंस के लिए अप्लाई करने के बाद कोई भी नहीं करना है यहां तक कि बहुत सारे लोग तो कर देते हैं कि गूगल लेट्स उसका रिप्लाई ना आए अपनी वेबसाइट थोड़े और बढ़ा देते हैं तो ऐसी गलती आप को बिल्कुल भी नहीं करनी है दोस्तों अगर आपको ऐसा करोगे कि अपनी वेबसाइट और बढ़ाओ ओके गूगल अप्लाई कर दो गूगल ऐडसेंस आप को रिजेक्ट करेगा इसकी मैं आपको गारंटी देता हूं तो आपको गूगल ऐडसेंस के लिए अप्लाई करने के बाद अपने वेबसाइट पर कोई भी आर्टिकल पब्लिक नहीं करना है ऐसा करने से हमारा जो एक्सएमएल फाइल होता है उसमें नया कोड ऐड हो जाता है तो उसी के वजह से जो गूगलबोट होता है उसे लगेगा कि आपके साइट पर अभी भी कोई काम चालू है|

वैल्यूएबल इन्वेंटरी स्क्रैप कंटेंट का सोल्यूशन क्या है ( valuable inventory scrape content )


गूगल ऐडसेंस पे जब भी वैल्युएबल इन्वेंटरी स्क्रैप कंटेंट दिखाई दे तो समझ लेना की आपकी वेबसाइट पर कहीं ना कहीं कॉपीराइट कंटेंट पड़ा हुआ है जिसकी वजह से स्क्रैप कंटेंट का प्रॉब्लम दिखाई दिया है|

जब भी स्क्रैप कंटेंट का प्रॉब्लम होता है तो आपको अपने एक एक पोस्ट को करके आप ओपन करके देखना होगा कि कहां पर अपने गलती की है और कहां पर आपने जो कॉपीराइट कंटेंट यूज़ किया है जिसकी वजह से आपको स्क्रैप कंटेंट का प्रॉब्लम दिखाई दे रहा है तो इस तरह आप स्क्रैप कंटेंट का क प्रोब्लम सॉल्व कर सकते हो|

वैल्युएबल इन्वेंटरी टेंप्लेट पेजीस का सॉल्यूशन क्या है ( valuable inventory template pages )


दोस्तों जब भी आपको गूगल ऐडसेंस के लिए अपनी वेबसाइट को अप्लाई करते हैं तो कभी-कभी आपको वैल्युएबल इन्वेंटरी टेंप्लेट पेजेस के रीजन से आपकी वेबसाइट को रिजेक्ट किया जाता है तो आज मैं आपको उसका भी सलूशन बताने वाला हूं तो दोस्तों उसका सलूशन बहुत ही सिंपल है आपको क्या करना है आपने जो अपनी वेबसाइट पर टेंपलेट लगाई है उसे चेंज कर देना है कोई रिस्पांस भी फ्री वाली सिम यूज करना है जो आपको ऐसी वह फ्रेंडली हो तो ऐसे करने से आपकी वेबसाइट पर जो एलिमेंट्स का प्रॉब्लम दिखाई दे रहा है वह हो जाएगा मे गारंटी देता हूं|

दोस्तों कभी-कभी आप जो गूगल ऐडसेंस के लिए अपनी वेबसाइट को एप लाइक करेंगे तो आपको उसका रीजन ही नहीं बताएगा मतलब सिंपल ही बता देगा कि वी हैव फाउंड सम पॉलिसी वायलेशंस ऑन योर वेबसाइट तो बस इतना ही रीजन दिखाएगा और कोई रीज़न नहीं बताएगा कि इस वजह से हमने आपकी वेबसाइट को रिजेक्ट किया है वह कोई नहीं बताएगा तो ऐसे में आप लोग क्या करेंगे तो मैं आपको बताता हूं ऐसे में आपको हर एक चीज को मतलब बारिश कैसे चेक करना पड़ेगा सभी चीज को मतलब पोस्ट थे पेजेस और सब कुछ मतलब आपने जो साइड में सब मिल गया है वह गूगल सर्च कंसोल में सब कुछ आपको चेक करना होगा कवरेज से सबको सभी को आप को एक एक करके आपको सभी को चेक करना है और कहीं पर भी अगर प्रॉब्लम देखें तो आप उसे ठीक कर दीजिए तो ऐसा करने से आपको प्रॉब्लम कैसे मिल जाएगा और सलूशन हो जाएगा तो इस तरह आप मतलब पॉलिसी वायलेशंस का सलूशन ठीक कर सकते हो|

तो दोस्तों उम्मीद करता हूं कि अब तो आपको पता चल ही गया होगा कि गूगल ऐडसेंस अप्रूवल अपनी वेबसाइट पर कैसे लिया जाता है और अगर आपने अभी देखे होंगे जो गूगल लेते हैं तो जो भी करने पड़ रहे हो वह उसका मतलब कैसे किया जाता है वह भी आपको मैं बता दिया हूं काम करने के बावजूद भी अपनी वेबसाइट के माध्यम से मैं आपको बता दूंगा दो फ्रेंड्स आप मेको एक बार कॉन्टैक्टर्स मुझे कांटेक्ट कीजिए मैं आपको बता दूंगा कि आप की वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस अप्रूवल दिलवाने का कितना चार्ज लगेगा वह मैं आपको बता दूंगा अगर आप अपनी वेबसाइट को गूगल ऐडसेंस के साथ एप्रोल करवाना चाहते हैं तो आप मेरे से कांटेक्ट कर लीजिए एक बार तो फ्रेंड से उम्मीद करता हूं कि आपको यहां कल अच्छा ही लगा होगा अगर अच्छा लगा तो अपने सभी फ्रेंड्स को शेयर कर दीजिए अगर आपने अभी तक हमारी इस वेबसाइट को फॉलो नहीं किया तो कर दीजिए और अगर आपने अभी तक हमारी वेबसाइट पर अपना ईमेल वेरीफाई नहीं करवाया है तो वेरीफाई करवा लीजिए ताकि हमारे आने वाले हर एक लेटेस्ट आर्टिकल्स के नोटिफिकेशन आपके ईमेल आईडी पर ही मिलते रहे|

4 comments:

  1. yogishiv.in bhai ise dekh k btaiyo adsense approval milega ya nhi.ek baar templated pages ka issue hua h

    ReplyDelete
    Replies
    1. Ek baar template change karke dekho,

      Aur post tumne likhe hai kya ?
      Thumbnail bhi copyright hai, khud banake lagao bro.

      Delete

Thank for comment on Vipul Rathod Tech