Independence day 2020 | स्वतंत्रता दिवस

Independence day 2020 | स्वतंत्रता दिवस 


भारत में 15 august बहुत उत्साह और गौरव के साथ मनाया जाता है | 15 अगस्त 1947 को भारत को अंग्रेजों की गुलामी से आजादी मिली थी |  तब से हमारे देश में 15 अगस्त को independence day मनाया जाता है |

Independence day 2020 | स्वतंत्रता दिवस
Independence day 2020


इंडियन भारत के prime minister लाल किला पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं इस दिन सभी सरकारी कार्यालय जैसलमेर पोस्ट ऑफिस आदि में अवकाश रहता है इसके साथ ही सभी school and college में तिरंगा फहराया जाता है |

भारत को आजादी दिलाने के लिए कोई स्वतंत्रता सेनानियों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी परतंत्रता सेनानियों के कठिन संघर्ष के बाद भारत अंग्रेजों की हुकूमत से आजाद हुआ था तब से लेकर आज तक 15 अगस्त को हम independence day मनाते है |

Also read





इसके साथ ही कई स्कूलों और कॉलेजों में निबंध कविता भाषण घाटा का दिखाएं प्रतियोगिता भी आयोजित की जाती है 15 अगस्त 1947 भारत के लिए बहुत भाग्यशाली दिन था इस दिन अंग्रेजों के लगभग 200 वर्ष गुलामी के पश्चात हमारे देश को आजादी प्राप्त हुई थी |

Independence day को भारत में राष्ट्रीय अवकाश होता है इसके 1 दिन पहले भारत के president देश के समक्ष संबोधित करते हैं जिसमें रेडियो के साथ कई टीवी चैनल में भी दिखाया जाता है स्वतंत्रता दिवस पर हर वर्ष देश के prime minister लाल किला पर तिरंगा फहराते हैं |

औरंगाबाद का गाना है और एक बार गोलियां चलाकर सलामी भी दी जाती है इसके साथ ही भारतीय सशस्त्र बल अर्धसैनिक बल और NCC ( National Caded Corps ) कैडेट परेड करते हैं इसलिए लाल किला के टीवी के DD sport channel फॉर ऑल india radio में सीधा प्रसारण किया जाता है |

15 August 1947 को भारत में ब्रिटिश साम्राज्य से मुक्त होकर स्वतंत्रता प्राप्त की थी |
दिन सभी भारतीयों के लिए खुशी महिमा और गौरव का दिन है |

India के लिए ब्रिटिश राज से स्वतंत्रता पाना इतना आसान नहीं था आजादी का फैसला बिगुल 1857 में बजा किंतु कुछ कारणों से हम गुलामी के बंधन से मुक्त नहीं हो सके |

जिस देश में chandrashekhar aazad, mangal pandey, bhagat singh जैसे क्रांतिकारी तथा mahatma gandhi, sardar patel जैसे देश भक्त मौजूद हो उस देश को गुलाम कौन रख सकता था |

Vande mataram और इंकलाब जिंदाबाद के नारे लगाते हुए होने के निर्देश पर फांसी के फंदे पर झूल गई है 15 अगस्त का दिन उन शहीदों को स्मरण करने का दिन है जिनके बलिदान की वजह से हम सभी आजाद भारत में सांस ले रहे हैं |

भारत में independence day सभी धर्म परंपराओं और संस्कृति के लोग पूरी गुस्से से एक साथ मनाते हैं इस दिन deshbhakti के गीतों को सुनकर लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं |

सभी सरकारी धर्म अर्थात सरकारी निगम एवं प्रशासनिक कार्यालयों में state government आया जाता है और national song गाया जाता है |

राज्यों में भी independence day का उत्साह के साथ मनाया जाता है जिसमें राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्री मुख्य तिथि के तौर पर होते हैं |

हमारी नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि मुस्लिमों से मिली independence की रोक को समझे आजादी के दिन तिरंगे के रंगों का अनोखा अनुभव महसूस करें |


Click here for home

Post a Comment

0 Comments